• मोदी सरकार ने 7 गुना बढाई लर्निंग लाईसेंस की फीस

    item-thumbnail  नई दिल्ली। नए साल में अब लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना और गाड़ी का रजिस्ट्रेशन कराना महंगा पड़ेगा। केंद्र सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस की फीस में साढ़े छह गुना वृद्धि कर दी है, जबकि नए वाहनों की रजिस्ट्रेशन फीस पांच गुना तक बढ़ा दी गई है। यह बढ़ी फीस शनिवार से वसूली जाएगी।
     परिवहन आयुक्त के रविंद्र नायक ने बताया कि सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने 29 दिसंबर को जारी अधिसूचना में लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन सहित कई तरह की फीस बढ़ा दी है। अभी लर्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए लोगों को प्रति वाहन वर्ग के हिसाब से 30 रुपये फीस देनी होती थी। अब शनिवार से यह फीस 200 रुपये हो जाएगी। इसमें 150 रुपये लर्नर लाइसेंस फीस और 50 रुपये लर्नर टेस्ट फीस होगी। लर्निंग टेस्ट में फेल होने पर अगली बार फिर 50 रुपये फीस देनी पड़ेगी।
     परिवहन आयुक्त ने बताया कि अभी तक स्थायी लाइसेंस के लिए प्रति वाहन वर्ग 250 रुपये फीस थी। इसमें 200 रुपये का स्मार्ट कार्ड और 50 रुपये ड्राइविंग टेस्ट फीस ली जाती थी। अब इसके लिए 700 रुपये देने पड़ेंगे। इसमें 200 रुपये लाइसेंस जारी करने के लिए, 200 रुपए स्मार्ट कार्ड के लिए और 300 रुपये डीएल फीस होगी।



    Last Updated On: 07-01-17 13:59:51