• घर से स्कूल के लिये निकली लडकी BF के साथ घुसी थी टायलेट में

    item-thumbnail  ग्वालियर| घर से स्कूल पढ़ने निकली 7वीं कक्षा की छात्रा ने सुलभ कॉम्पलेक्स में स्कूल की ड्रेस चेंज की फिर अपनी उम्र से 10 साल बड़े बॉयफ्रेंड के साथ पार्क पहुंच गई, जहां निर्भया सेल ने पकड़ लिया। छात्रा युवक को पहले भाई और फिर मंगेतर बताने लगी। जब सेल ने उसका बैग चेक किया तो उसमें स्कूल ड्रेस और सातवीं कक्षा की किताबें मिली। छात्रा एक घंटे तक पुलिस को झूठ बोलकर छकाती रही। बाद में जब उसका मोबाइल मिला तो परिजन से संपर्क किया। जानकारी मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे और सेल प्रभारी से माफी मांग कर उसे साथ ले गए। निर्भया सेल ने कई सार्वजनिक स्थानों से मनचलों को खदेड़ा। सेल प्रभारी गांधी पार्क पहुंचीं तो वहां पर 13 वर्षीय बालिका और 23 वर्षीय युवक गले में हाथ डाले हुए मिले। नाबालिग को दोगुनी उम्र के युवक के साथ देख कर सेल प्रभारी को संदेह हुआ और वह सेल की सदस्यों के साथ उनके पास पहुंचीं। पूछताछ में युवक तो शांत रहा, लेकिन नाबालिग ने युवक को अपना भाई और कुछ देर बाद उसे मंगेतर बताया। पता पूछने पर छात्रा ने खुद को मुरार निवासी बताया। यह भी बताया कि उसके पापा मजदूरी करते हैं। उन पर मोबाइल नहीं है। छात्रा के बैग की तलाशी ली तो उसमें कक्षा 7 की किताबें और स्कूल ड्रेस के साथ ही मोबाइल भी बरामद हुआ, जिसमें मामा के नाम से एक नंबर मिला। उस नंबर पर बात करने पर पता चला कि छात्रा हरिशंकरपुरम की रहने वाली है। मामा ने पिता को सूचना दी। सूचना मिलते ही वह भी मौके पर पहुंचे और सेल से माफी मांगी और छात्रा को अपने साथ ले गए। युवक ने अपना नाम सचिन बघेल निवासी भितरवार बताया। वह हरिशंकरपुरम में अपने रिश्तेदार के यहां आया है।




    Last Updated On: 2017-01-05 19:36:22