• किन्नरों की खूबसूरती देखने के लिए यहां उमड रही भीड

    item-thumbnail  ग्वालियर। शहर के राय प्रगति गार्डन में देशभर से आए किन्नर लोगों के आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। देश भर के किन्नरों के आने की खबर मिलने पर शहर के लोग उन्हें देखने सम्मेलन स्थल पहुंच रहे हैं। चूंकि यहां बाहरी लोगों के प्रवेश पर रोक है इसलिए सभी बाहर खड़े होकर ही नजारा देख रहे हैं। 10 दिन के अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन में देशभर के तकरीबन दो हजार किन्नर गुरु अपने चेलों के साथ इकट्ठा हुए हैं।
     गुरु बॉबी बाई ने कहा, किन्नर समाज के बुजुर्ग के निधन होने, बच्चों के लिए दुआएं व अन्य समाज की खुशहाली के लिए सम्मेलन आयोजित किए जाते हैं। इसमें मप्र के अलावा उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, जम्मू कश्मीर, झारखंड, दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा, छत्तीसगढ़, केरल के किन्नर भी शामिल हैं। सम्मेलन के बाहर लगी अस्थायी दुकानें पर आर्टिफिशियल ज्वेलरी, साड़ियां, सूट, शॉल, प्लास्टिक सामान, मेकअप की तमाम वैराइटी उपलब्ध है। यहां आसपास की कॉलोनियों की महिलाएं भी खरीदारी करने पहुंच रही हैं।
     किन्नर सम्मेलन में दुकान लगाने के लिए जम्मू कश्मीर, जालंधर, लुधियाना, अमृतसर, जयपुर, अजमेर, फिरोजाबाद, लखनऊ, रायपुर, जबलपुर आदि के दुकानदार आए हैं। ये सिर्फ किन्नर सम्मेलनों में ही दुकानें लगाते हैं। व्यापारियों ने कहा, उन्हें किन्नरों के माध्यम से जानकारी मिलती है कि कब, कहां और कितने दिन का सम्मेलन है। उसी आधार पर यह माल लेकर पहुंचते हैं। वारामूला से आए नासिर अमायन ने बताया कि वह पिछले 15 साल से सम्मेलन में शॉल, सूट की दुकान लगा रहे हैं।
     लुधियाना से आए सतवीर सिंह ने कहा, वह 18 साल से ऐसे कार्यक्रम में सामान बेच रहे हैं। कई बार किन्नरोंं के गुस्से का भी सामना करना पड़ता है। मेला या सम्मेलन खत्म होने पर वे खुशियां भी न्योछावर करके जाते हैं। सम्मेलन की तैयारी पिछले छह महीने से चल रही थीं। गुरू बॉबी बाई ने कहा, इसके लिए बाकायदा पुलिस व जिला प्रशासन से अनुमति ली है। मेहमानों की सुविधा का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है।



    Last Updated On: 2017-01-10 12:09:22