• मुजफ्फरनगर में होगी PM मोदी की पहली चुनावी रैली?

    item-thumbnail लखनऊ| यूपी चुनाव में एक महीने का समय बचा है और लखनऊ में बीजेपी के वॉर रूम ने आक्रामक ढंग से काम करना शुरू कर दिया है। वह चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 10 ‘मेगा रैलियों’ की योजना बना रहा है। इस वॉर रूम में 10 विभाग हैं, जिन्हें पार्टी के सीनियर नेता और आईटी प्रफेशनल्स संभालते हैं। इनमें से कुछ तो आईआईटी पास आउट हैं। टेक्नॉलजी की मदद से राज्य के अधिक से अधिक वोटरों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है। पार्टी के विडियो वैन और मोटरसाइकल से कैंपेन करने वाले कार्यकर्ताओं को भी मॉनिटर करता है। बीजेपी का दावा है कि प्रचार करने वाली उसकी चारपहिया और दोपहिया गाड़ियां अब तक 30 लाख लोगों तक पहुंच चुकी हैं।
    पीएम की पहली रैली मुजफ्फरनगर में?
    वॉर रूम अब मोदी की रैलियों की योजना बनाने में जुटा है। पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौड़ ने बताया, ‘यूपी में सात फेज में चुनाव होने जा रहे हैं और हमने इनमें से हर फेज में एक रैली का प्रस्ताव रखा है। किसी फेज में उनकी दो रैलियां भी हो सकती हैं। पहली रैली मुजफ्फरनगर या अलीगढ़ में इस महीने के अंत में होगी।’
    लोगों की राय जुटाकर घोषणा पत्र
    वॉर रूम में काम करने वाले कार्यकर्ताओं ने बताया कि 400 विडियो वैन और 1,650 मोटरसाइकल की मदद से पार्टी के लोग यूपी के कोने-कोने में जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि ये लोगों से पूछ रहे हैं कि वोटर क्या चाहते हैं? मतदाताओं से उनकी राय लेकर 20 लाख पोस्टकार्ड जुटाए गए हैं। अब इनका विश्लेषण किया जा रहा है और इनमें से कई बातें पार्टी के घोषणापत्र में शामिल की जा सकती हैं।
    8000 वॉट्सऐप ग्रुप, 12 लाख तक पहुंच
    बीजेपी यूपी के आईटी हेड संजय राय ने बताया कि पार्टी की राज्य इकाई 8,000 वॉट्सऐप ग्रुप को ऑपरेट करती है और इनकी पहुंच 12 लाख लोगों तक है। उन्होंने कहा, ‘राज्य में वॉट्सऐप सबसे लोकप्रिय नेटवर्किंग ऐप है। यूपी में करीब 4.5 करोड़ लोग इससे जुड़े हुए हैं। हम एक बटन दबाकर 12 लाख लोगों तक पहुंच सकते हैं। इस मेसेज को लोग दूसरे ग्रुप में आगे सर्कुलेट करते हैं।’
    110 स्टाफ का कॉलसेंटर
    वॉर रूम में 110 लोगों के बैठने की क्षमता वाला एक कॉल सेंटर भी काम कर रहा है। इसमें प्रत्येक ऑपरेटर रोज 250 फोन करता है। ये लोग बूथ कमिटी के प्रमुखों से बात करते हैं और उसके बाद फीडबैक रिपोर्ट तैयार करते हैं। बता दें कि यूपी में बीजेपी के 1.4 लाख बूथ हैं।



    Last Updated On: 2017-01-12 14:25:03