• नहीं टिकी दो बीबियां, घर में काम करने वाली से लेकर कई औरतों के साथ संबंध बनाते थे ओमपुरी

    item-thumbnail  ओम पुरी की दूसरी पत्नी नंदिता पुरी की लिखी उनकी जीवनी 'अनलाइकली हीरो : द स्टोरी ऑफ़ ओम पुरी' जब 2009 में छपी थी तो उसने ओम पुरी के निजी जीवन में भूचाल ला दिया था. ओम पुरी ने इस बात का बहुत बुरा माना था कि इस किताब में कई महिलाओं से उनके संबंधों को बिना किसा लागलपेट के असली नामों के साथ बताया गया था. किताब के अनुसार ओम ने 14 वर्ष की आयु में अपने घर में काम करने वाली एक महिला से यौन संबंध बनाए थे.
     बाद में उनके एक और महिला से गहरे निजी और यौन संबंध बने जो उनके बीमार पिता की तीमारदारी कर रही थी. ओमपुरी का कहना था कि नंदिता ने ये बातें जगज़ाहिर कर उनके चाहने वालों के बीच उनकी छवि को गिरा दिया. ओम को नंदिता से सबसे अधिक नाराज़गी थी घर में काम करने वाली एक महिला के साथ उनके सेक्स संबंधों को लेकर लिखे गए वाकये से. किताब के मुताबिक़ ये संबंध तब बने थे जब ओम 14 साल के थे. एक इंटरव्यू में ओमपुरी ने कहा था कि उनकी बीवी ने उनके जीवन के पवित्र हिस्से को इस स्तर तक गिरा दिया है कि वो सुनने में घटिया लगता है. उनका कहना था कि हर पति पत्नी में बहुत सारी राज़दाराना बातें होती हैं लेकिन उसे आम नहीं किया जाता है.उनका कहना था कि किताब के इस हिस्से ने समाज की नज़रों में उनके आदर को कम कर दिया है.
     दिलचस्प बात ये है कि नंदिता, ओम के जीवन में तब आईं जब वो 1993 में 'सिटी ऑफ़ जॉय' की शूटिंग के दौरान उनका इंटरव्यू लेने पहुंची थीं. उनकी दोस्ती बढ़ी और बाद में दोनों ने शादी कर ली. इससे पहले ओम पुरी अभिनेता अन्नू कपूर की बहन से शादी कर चुके थे लेकिन वो शादी चल नहीं सकी. ओम पुरी को इस बात पर ऐतराज़ था कि नंदिता ने किताब के प्रकाशन से पहले उन्हें वो किताब पढ़ने तक के लिए नहीं दी. उस समय ओम पुरी ने कहा था कि नंदिता ने उनके विश्वास को तो तोड़ा ही है, साथ ही उन सभी महिलाओं के वास्तविक नाम बता कर उनकी भी छवि खराब की है. बाद में नंदिता ने उन पर घरेलू हिंसा का आरोप लगाया था और मामला पुलिस तक पहुंच गया था. उसके बाद ओम पुरी और नंदिता पुरी अलग हो गए थे.



    Last Updated On: 06-01-17 17:24:40